शाही सवारी

बाबा बैजनाथ
  • के दौरान मनाया जाता है: August
  • महत्व:

    आगर-मालवा। श्रावण मास के अंतिम सोमवार को नगर में बैजनाथ महादेव की 36वीं वार्षिक शाही सवारी धूमधाम से निकाली गई। इसमें आसपास व दूरदराज के सैकड़ों गांवों एवं नगरवासियों सहित करीब 1 लाख श्रद्धालु शामिल हुए। 50 हजार के लगभग अतिथि भक्तों ने भोजन प्रसादी ग्रहण की। सवारी में शामिल भक्तों का नगर में जगह-जगह स्वागत किया गया। प्रातः से रात 10 बजे तक मंदिर से लेकर शहर में भक्तों की चहल पहल बनी रही।

    श्रद्धालुओं का आगमन मंदिर पर प्रातः से होने लगा था। लंबी कतारों में श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। दोपहर 1 बजे कलेक्टर डीडी अग्रवाल ने बाबा को सवारी में शामिल होने के लिए आव्हान पूजन किया। पश्चात मंदिर परिसर से सवारी का रथ रवाना किया गया। एसपी आरआरसिंह परिहार एवं एसडीएम जीएस डाबर इस पूजन कार्य में सहभागी बने। सवारी मंदिर से 4 किमी की दूरी तय कर छावनी नाका चौराहे करीब 3 बजे पहुंची। यहां से सवारी में बैंडबाजे एवं झांकी तथा गांव से आई भजन मंडलियां, अखाड़े आदि का कारवां जुड़ा। गाजे-बाजे व डीजे पर शिव महिमा के गीतो पर नाचते गाते अपनी-अपनी मंडलियों के साथ श्रद्धालु शामिल थे। करीब 1 किमी लंबी इस सवारी को देखने में एक स्थान से भक्तों को करीब 5 घंटे का समय लगा। नगर में 2 किमी की दूरी तय कर बाबा की सवारी भंडारा स्थल पर रात करीब 10 बजे पहुंच पाई। सवारी मार्ग दर्शकों से खचाखच भरा था। मकानों, गैलरियों व छतों पर दर्शक जमा थे। मार्ग में जगह-जगह रथ में सवार बाबा की पूजा-अर्चना श्रद्धालुओं ने की। यहां की सद्भावना परंपरा के अनुसार मुस्लिम भाइयों ने भी जगह-जगह स्वागत मंच बनाकर सवारी का स्वागत किया। कलेक्टर के परिवारजन ने छावनी चौक में सवारी का स्वागत किया।

  • उत्सव के अवसर :

    धोती कुर्ता और साड़ी